Blog Archives

Why I Sketch For 30 Minutes Every Morning

Originally posted on The Hipping Post:
“We have failed to recognize our great asset: time.  A conscientious use of it could make us into something quite amazing.” – Friedrich Schiller (1759 – 1805) In high school, my art teacher advised his students…

Posted in Uncategorized

घमौरियां या प्रिकली हीट

गर्मी के मौसम में पसीना आना स्वाभाविक है | इस पसीने को यदि साफ़ न किया जाए तो यह शरीर में ही सूख जाता है और इसकी वजह से शरीर में छोटे -छोटे दाने निकल आते हैं जिन्हें हम घमौरियां

Tagged with:
Posted in Uncategorized

Humanity

एक संत ने एक रात स्वप्न देखा कि उनके पास एक देवदूत आया है। देवदूत के हाथ में एक सूची है। उसने कहा, ‘यह उन लोगों की सूची है, जो प्रभु से प्रेम करते हैं।’ संत ने कहा, ‘मैं भी

Tagged with: ,
Posted in Uncategorized

क्रोध

1- क्रोध को जीतने में मौन सबसे अधिक सहायक है। ——————- 2- मूर्ख मनुष्य क्रोध को जोर-शोर से प्रकट करता है, किंतु बुद्धिमान शांति से उसे वश में करता है। ——————- 3- क्रोध करने का मतलब है, दूसरों की गलतियों

Tagged with: , ,
Posted in Uncategorized

मलेरिया

मलेरिया एक वाहक-जनित संक्रामक रोग है जो प्रोटोज़ोआ परजीवी द्वारा फैलता है। मलेरिया सबसे प्रचलित संक्रामक रोगों में से एक है तथा भंयकर जन स्वास्थ्य समस्या है।मलेरिया के परजीवी का वाहक मादा एनोफ़िलेज़ (Anopheles) मच्छर है। इसके काटने पर मलेरिया

Tagged with:
Posted in Uncategorized

प्रेरक प्रसंग

एक प्यारे से couple को करीब 10 साल बाद एक बच्ची हुई, वो सभी आपस में खुश थे, एक दूसरे से बहुत प्यार करते थे. और बच्ची तो उनकी दुलारी थी. एक सुबह, जब बच्ची करीब कुछ दो सालो की

Posted in Uncategorized

चाणक्य वाक्य

1)➤दूसरों की गलतियों से सीखो अपने ही ऊपर प्रयोग करके सीखने को तुम्हारी आयु कम पड़ेगी 2)➤किसी भी व्यक्ति को बहुत ईमानदार नहीं होना चाहिए। सीधे वृक्ष और व्यक्ति पहले काटे जाते हैं। 3)➤अगर कोई सर्प जहरीला नहीं है तब

Tagged with: , ,
Posted in Uncategorized